Skip to content

Fathers Name Not Removed From Pan Card महिला के शादी के बाद भी Pan Card से पिता का नाम क्यों नहीं हटता? जान लीजिए असली वजह

  • by
Fathers Name Not Removed From Pan Card
Fathers Name Not Removed From Pan Card शादी के बाद, प्रत्येक महिला की पत्नी का नाम उसकी सरकारी दस्तावेज पर रहता है। प्रत्येक विवाहित महिला के सरकारी अभिलेखों में पिता के नाम के स्थान पर पति/पत्नी का नाम शामिल किया जाता है। हालाँकि, पैन कार्ड एक सरकारी दस्तावेज है जिसमें पति या पत्नी का नाम नहीं जोड़ा जाता है। पैन कार्ड में पिता का नाम हमेशा आवश्यकता होता है. पैन कार्ड में जीवनसाथी का नाम नहीं जोड़ा जाता है. इसका वजह बेहद खास है।
Fathers Name Not Removed From Pan Card

Fathers Name Not Removed From Pan Card

पैन कार्ड क्यों है जरूरी

पैन कार्ड का फुल फॉर्म परमानेंट अकाउंट नंबर (Permanent Account Number)। पैन कार्ड बनवाना इसलिए जरूरी है क्योंकि यह अकाउंटनंबर भारत में रहने वाले निवासियों की आर्थिक गतिविधियों के लिए है। वेतन या किसी भी प्रकार की किस्त प्राप्त करने या चार्ज कवर करने के लिए, हम वास्तव में पैन कार्ड नंबर चाहते हैं। डिश कार्ड भारत के वार्षिक शुल्क प्रभाग द्वारा दिया जाता है। इसे बनवाने के लिए आपको अपना नाम, पिता का नाम, जन्मतिथि,हस्ताक्षर और फोटो चाहिए।

आपने शायद देखा होगा कि जब किसी महिला की शादी हो जाती है, तो उसके सरकारी दस्तावेज में बदलाव होता है। उन रिपोर्टों में पिता के नाम की जगह पति का नाम डाला जाता है. हालाँकि, पैन कार्ड एक सरकारी दस्तावेज है जिसमें पति या पत्नी का नाम नहीं जोड़ा जाता है।

इसमें शादी के बाद भी पिता का नाम रहता है। विवाह के बाद इस दस्तावेज का कोई बदलाव नहीं होता। तो क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की है कि पैन कार्ड नंबर में पति का नाम क्यों नहीं है?

क्यों नहीं होता पैन कार्ड में पति का नाम?

Fathers Name Not Removed From Pan Card

Fathers Name Not Removed From Pan Card

जैसा कि आप जानते हैं कि पैन कार्ड (PAN CARD) का फुल फॉर्म परमानेंट अकाउंट नंबर होता है परमानेंट नाम से ही जाहिर है कि यह लंबे समय तक चलने वाला है। वास्तव में इसका मतलब यह है कि जीवन से लेकर मृत्यु तक केवल एक ही अकाउंट नंबर हो। कभी-कभी कुछ शादियां टूट भी जाती है।

ऐसी स्थिति में, यदि पति या पत्नी का नाम डिश कार्ड में जोड़ा जाता है, तलाक या अलग के बाद, यदि महिला अगली बार शादी करती है, तो पति का नाम बदल दिया जाना चाहिए। कई बार इसे बदलने संभव नहीं है। यही कारण है कि पैन कार्ड पर पिता का नाम है, पति का नाम नहीं होता। चूंकि पिता का नाम ही रहता है। क्योंकि पिता का नाम कुछ भी हो जाए बदल नहीं सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

निक्की तंबोली (Nikki Tamboli Bold Photos) सेक्सी पोज़ देती जान्हवी की ये तस्वीरें इंटरनेट का टेम्परेचर बढ़ा रही हैं बिकिनी में नम्रता मल्ला ने लगाया हॉटनेस का तड़का वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को 4 विकेट से टी20 सीरीज के पहले मुकाबले में हरा दिया बिग बॉस 17 के टॉप 5 कंटेस्टेंट्स की लिस्ट जारी की है।