Skip to content

SIM Card Rules : 1 जनवरी से बदल गए Sim Card से जुड़े नियम, अब पहले से ज्यादा होगा वेरिफिकेशन….

  • by

SIM Card Rules: आज से नया साल 2024 शुरू हो गया है और आज नया साल कुछ लोगों के लिए बदल भी गया है और अलग भी। वैसे तो हर महीने की नई तारीख पर कई नियम बदलते हैं, लेकिन आज नए साल के मौके पर कई नियम भी बदल गए हैं। इनमें से एक नियम नए सिम कार्ड के संबंध में भी है। यह नियम सिम कार्ड खरीदने के लिए बनाया गया है जो 1 जनवरी 2024 से लागू होगा।

फिलहाल यह काम खत्म हो जाना चाहिए

भारतीय सरकार द्वारा बनाए गए नए नियम के मुताबिक, अब अगर कोई भी व्यक्ति दूसरा सिम कार्ड खरीदता है तो उसे 1 जनवरी 2024 से वर्चुअल केवाईसी पूरी करनी होगी। आज से पहले सिम खरीदने की पूरी प्रक्रिया कागजों पर निर्भर करती थी।

डिजिटल गलतबयानी को रोकने का प्रयास

यह मानक सभी टेलीकॉम कंपनियों के लिए लागू किया गया है और यह जानकारी खुद सार्वजनिक प्राधिकरण शाखा टेलीकॉम ने दी है। दरअसल, डिजिटल गलतबयानी को रोकने के लिए टेलीकॉम ऑफिस की ओर से यह फैसला लिया गया है।

सरकारी संस्था ने दिया डेटा

टेलिकॉम कॉरेस्पोंडेंस ब्रांच ने दिसंबर महीने में ही चेतावनी देते हुए कहा था कि अब डिपार्टमेंट 1 जनवरी 2024 से पेपर बेस्ड KYC की जगह लेगा और इसके बाद नए साल से वर्चुअल KYC के जरिए दूसरी सिम मिलने की उम्मीद है।|

नकली संग्रह के कारण कोई सिम नहीं

सार्वजनिक प्राधिकरण को सिम कार्ड के लिए नए दिशानिर्देश लागू करके डिजिटल गलतबयानी को रोकने की जरूरत है। सरकारी एजेंसी का मानना है कि इस मानक के लागू होने के बाद नकली सिम के कारोबार पर रोक लग जाएगी|

सिम सेल फोकस का भी इसी तरह पालन किया जाएगा

दरअसल, 1 जनवरी से बदल रहे नियमों के मुताबिक सिम विक्रेता को रिटेल लोकेशन की भी जानकारी देनी होगी। इसके मुताबिक, अगर भविष्य में ऐसी कोई स्थिति होती है तो रिटेल लोकेशन के जरिए इसका पता लगाने की कोशिश की जाएगी।

करवाना होगा रजिस्ट्रेशन

नए मानकों के अनुसार, सरकार ने दूरसंचार कंपनियों के लिए व्यापारियों, फ्रेंचाइजी और रिटेल लोकेशन विशेषज्ञों की भर्ती अनिवार्य कर दी है। इसके लिए विशेषज्ञ को एक साल का समय दिया जायेगा|

साइबर गलतबयानी के मामले बढ़ रहे हैं

दरअसल, देखा जा रहा है कि धीरे-धीरे साइबर ठगी का दायरा बढ़ता जा रहा है और डिजिटल चालबाजों के मामले भी सामने आ रहे हैं| इस वजह से, व्यक्ति अज्ञात नंबरों से कॉल या संदेशों के माध्यम से ऑनलाइन जबरन वसूली का शिकार बन जाते हैं।

लोग ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं

साइबर फ्रॉड के जरिए लोगों से हजारों रुपये के साथ-साथ लाखों-करोड़ों रुपये की ठगी की जा रही है| इस प्रकार की जबरन वसूली में कई व्यक्ति तब तक खो देते हैं जब तक वे अपने लाभ को याद रख पाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

निक्की तंबोली (Nikki Tamboli Bold Photos) सेक्सी पोज़ देती जान्हवी की ये तस्वीरें इंटरनेट का टेम्परेचर बढ़ा रही हैं बिकिनी में नम्रता मल्ला ने लगाया हॉटनेस का तड़का वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को 4 विकेट से टी20 सीरीज के पहले मुकाबले में हरा दिया बिग बॉस 17 के टॉप 5 कंटेस्टेंट्स की लिस्ट जारी की है।