Skip to content

Fraud At Petrol Pump वाले आपको ऐसे लगा रहे चूना- जेब कटने से बचानी है तो जान लें तरीका

  • by
How Petrol Pump Vendors Cheating Youv

Fraud At Petrol Pump: देश में पेट्रोलियम से चलने वाले वाहनों की संख्या असाधारण रूप से अधिक है। वाहन चलाने के लिए पेट्रोलियम साइफन पर जाकर पेट्रोलियम भरवाना पड़ता है। ऐसे में वाहन चालकों को पेट्रोलियम भरवाते समय काफी सावधानी बरतनी चाहिए।

Fraud At Petrol Pump
Fraud At Petrol Pump

दरअसल, पेट्रोल पंप पर ईंधन भरते समय खेल खेला जाता है।धोखाधड़ी इस तरह से की जाती है ताकि लोग समझ न सकें। पेट्रोल पंप पर ईंधन भरते समय आप धोखा खा जाते हैं और आपको इसकी कोई जानकारी नहीं होती। ऐसे में आज हम आपको इन स्टंट्स के बारे में बताएंगे, ताकि आप तैयार रहें और धोखा न खाएं। आइए जानते हैं पेट्रोलियम भरवाते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

मीटर का ध्यान रखें

जब ग्राहक अपने वाहन में पेट्रोल भरवाने के लिए पेट्रोल पंप पर जाते हैं, तो प्रतिनिधि अनुरोध करते हैं कि लोग मीटर में शून्य खोजें। जीरो देखकर ग्राहकों को भरोसा हो जाता है कि गाड़ी में पेट्रोल और डीजल ठीक से भरा हुआ है, लेकिन इस मीटर में भी गलत जानकारी दी जाती है। इस मीटर में एक अनूठी प्रस्तुति है, जिस पर ग्राहकों को ध्यान देना जरूरी है।

डेंसिटी मीटर पर नजर रखें

पेट्रोलियम और डीजल की कीमत को लेकर ग्राहकों के साथ ठगी का दौर चल रहा है. इसे नियंत्रित कर ग्राहकों को धोखा दिया जाता है. पेट्रोल पंप में लगी मशीनों में अलग-अलग क्षेत्र होते हैं, जिनमें आप पेट्रोलियम कितना है, कितना खर्च होता है और कितनी मात्रा में है जैसी हर जानकारी देख सकते हैं। इस मशीन की स्क्रीन पर आप घनत्व देख सकते हैं, जो सीधे तौर पर ईंधन की शुद्धता जैसे गुण को दर्शाता है। इस बात का ध्यान रखकर आप धोखाधड़ी से बच सकते हैं।

पेट्रोल पंपों पर घनत्व के लिए निर्धारित नियमों में बदलाव कर धोखाधड़ी की जाती है। डेंसिटी का तात्पर्य है, यह आपको घनत्व दिखाता है। किसी पदार्थ की मोटाई को उसकी घनत्व कहा जा सकता है। जब कोई वस्तु एक निश्चित मात्रा में घटकों को मिलाकर तैयार की जाती है, तो उसके आधार पर उसकी प्रकृति तय नहीं की जाती है।

यदि उसमें थोड़ा सा भी अंतर हो तो समझ लें कि वह मिलावट हो गया है। पेट्रोलियम की डेंसिटी प्रति घन मीटर 730 से 800 किलोग्राम तथा डीजल की घनत्व प्रति घन मीटर 830 से 900 किलोग्राम निर्धारित है। इस बात का ध्यान रखें कि कहीं आपकी उम्र इससे कहीं ज़्यादा तो नहीं है।

खेल भी इसी तरह होता है

पेट्रोल पंपों पर तेल की कमी की शिकायतें अक्सर सुनने को मिलती हैं। यहां होने वाली इस गलतबयानी पर किसी का ध्यान नहीं जाता, जिसका सीधा नुकसान ग्राहकों को होता है। ग्राहक भी छलांग स्टंट का शिकार हो सकता है। इसमें भी ग्राहकों को मीटर दिखाकर लूटपाट की जाती है।

Fraud At Petrol Pump
Fraud At Petrol Pump

जब आप मीटर पर नज़र डालेंगे तो आपने शायद देखा होगा कि 0 से शुरू होकर मीटर तुरंत 5-6 रुपये पर आ जाता है और केंद्र 2-3-4 पर ध्यान नहीं दिया जाता है। यहीं पर ग्राहकों के साथ खेल खेला जाता है, क्योंकि शून्य से शुरू करने के बाद मीटर को चरणबद्ध तरीके से 1-2-3 रुपये तक बढ़ाया जाना चाहिए। यह मानते हुए कि आपके साथ भी ऐसा होता है, आप पूरक संख्या 18002333555 पर शिकायत कर सकते हैं। इसके बाद, यह मानते हुए कि जांच में कोई विसंगति पाई जाती है, पंप का परमिट रद्द किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

निक्की तंबोली (Nikki Tamboli Bold Photos) सेक्सी पोज़ देती जान्हवी की ये तस्वीरें इंटरनेट का टेम्परेचर बढ़ा रही हैं बिकिनी में नम्रता मल्ला ने लगाया हॉटनेस का तड़का वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को 4 विकेट से टी20 सीरीज के पहले मुकाबले में हरा दिया बिग बॉस 17 के टॉप 5 कंटेस्टेंट्स की लिस्ट जारी की है।